Latest News

सिलेंडर और LPG दामों को लेकर RBI ने किया बड़ा घोषणा, जानिए पूरी खबर

LPG PRICE EMPACT: बीते कुछ दिनों में केंद्र सरकार ने मंहगाई को लेकर केंद्रीय रिजर्व बैंक ने घरेलू LPG की रेट में कम से कम 300 रूपिए  तक की कमी की है। इस कमी की छलक आने बाली दिनों में दिख सकती है।

RBI  Bank के  गवर्नर श्क्तिकांत दास जी ने कहा घर में उपयोग होने बाली सिलेंडर के दाम घटने से निकट भविष्य में  महंगाई को लेकर  अधिक नरमी  आएगी सब्जियों की कीमत कम होने से भी महंगाई कम आएगी सब्जियों की कीमत में भी नरमी और कमी होने की उम्मीद की  जा रही है। आपको बता दे की सरकार की सरकार के द्वारा अगस्त के आखरी हफ्ते में सिलेंडर के दाम 200₹रुपए कम किए थे। इसके बात हाल ही में उज्जबला के द्वारा  मिलने बाली सब्सिडी को 100₹रुपए बढ़ाया गया है।

इसपर सक्तिकांत दास जी ने क्या कहा: 

आरबीआई गवर्नर ने कहा कि अभी तक में सब्जियों के सबसे खासकर टमाटर के दाम और रशोई गैस सिलेंडर में भी कटौती और कम होने के भविष्य में कमी होते दिख रही है।भविष्य मे  मुद्रास्फीति के स्थिति के करने पर निर्भर करेगी।  शक्तिकांत दास ने ये भी कहा  उपभोगता मूल्य सूचकांक के आधारित मुद्रफिस्ती को और चालू तिमाही में घटाकर 6 % से नीचे और अगले महीने के तिमाही 5.2% रहने जा अनुमान  जरूर है।

रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं: आपको बताते चले रिजर्व बैंक के द्वारा शुक्रवार को लगातार चौथी बार रेपो रेट को 6.5%पर बराबर रखा। खुदरा मुद्रफिति को अब भी अपने कर्म से ऊंचा उठाने काम किया है। मगर रिजर्व आरबीआई ने महंगाई को लछ्यबके दायरे में ले आने को लेकर बॉन्ड बिक्री के साथ बैंको से अतिरिक्त नगदी निकलने की भी बात कही।

खुदरा महंगाई का अनुमान: आरबीआई बैंक ने चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के अंतर्गत में मुद्रा फीसदी में तेजी के बाबजूद भी चालू वित्त वर्ष के लिए खुदरा मुद्रफिति के भविष्य  वाणी और अनुमान को 4.4% में बिलकुल सहमति में रहा है। खुदरा मुद्तफिति में अगस्त महीने में हर साल भर में सालाना  के आधार पर 6.83% रही, जो जो जुलाई में के 15 माह के उच्चतर 7.44% पे आ गई थी। महंगी का भी यह आंकड़ा आरबीआई के मुद्रफिती के द्वारा 4% के उच्च से अधिक है। हालांकि अच्छी बटकोर के मुद्रफिति नरमी हैं और यह लगभग 5%के नीचे ही है।

खुद्राफिति खुदरा से अगर जैविक पदार्थ और ईंधन को हटा दिया जाए तो सुभविक तह वह मुद्राफिति कहलाती है। आरबीआई के अंतर्गत गवर्नर सक्तिकाँत दास जी ने कहा कि महंगाई को अधिक समय तक अपने हाथो और महंगाई को अपने काबू में लाने के लिए आवश्यक को पर आरबीआई बैंको से अतिरिक्त यानी जरूरत से ज्यादा नकदी निकालने को baund बिक्री पर विचार कर सकता है। उन्होंने यह भी कहा की बॉन्ड बिक्री के समय  केंद्रीय बैंक ने चालू वित्त वर्ष के  लिए G.D.P   के अनुमान को भी 6.5%पर बिलकुल स्थिर रखा है।

Dharmendra Kumar
I am Dhramendra. I'm a blogger and content creator at JankariForever.Com. I have experience in various fields including government jobs updates, government schemes, latest news updates, tech trends, current events in various fields including sports, gaming, politics, government policies, finance and etc.
http://jankariforever.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *